Monday, January 19, 2009

एक बंगला कहावत

तेलेर मथाये तेल ।

अर्थात जिसके सर पर तेल हो उसके सर पर लोग और तेल लगते है। यानि जिनके पास पैसा होता है लोग उन्हें और सम्मान, पैसा देते है। यही दुनिया है.

3 विचार आए:

रंजना [रंजू भाटिया] said...

यह तो सही कहावत बनी है पैसा बोलता है आज कल तो

इष्ट देव सांकृत्यायन said...

बहुत खूब! अच्छा संकलन किया है आपने कहावतों का.

संगीता पुरी said...

बहुत अच्‍छा....हमारे यहां कहा जाता है 'चिकन मूडे तेल'।

 

मेरे अंचल की कहावतें © 2010

Blogger Templates by Splashy Templates