Wednesday, February 18, 2009

एक bihari कहावत

भाड़ में जाए दुनिया , हम बजाई हरमुनिया
मतलब कि इसमे jindadil /beparwah एक इन्सान के बारे में कही गयी है। तमाम मुसीबतो के बीच में ek इन्सान जब थक जाता hai तब वो कहता hai कि दुनिया जाए जहनुम में ,मैअपना काम / मौज करता हु।

5 विचार आए:

Abhishek said...

तनाव से दूर अपनी धुन में रहने का संदेश!

संगीता पुरी said...

बहुत अच्‍छी कहावत है....

राज भाटिय़ा said...

इसी बात पे यह लॊ हमारी टिपण्णी

अशोक कुमार पाण्डेय said...

भाड मे जाये दुनिया,हम खाई सेव बुनिया

सिद्धार्थ जोशी said...

यह तो किसी चार्वाक की लिखी कहावत लगती है। :)

 

मेरे अंचल की कहावतें © 2010

Blogger Templates by Splashy Templates