Monday, April 6, 2009

एक कहावत

जो करे sharam ,okra fute करम

यानि जो vayakti sharma -sharma कर rah jata है वो जीवन me कुछ नही कर पता है। यानि शर्म- sharam me kimat phut jati है.

1 विचार आए:

Anonymous said...

और ट्रांसलिटरेशन में अर्थ का अनर्थ हो जाता है :)

 

मेरे अंचल की कहावतें © 2010

Blogger Templates by Splashy Templates