Monday, December 15, 2008

बंगला कहावत

जोले चान ओ कोरबो , किंतु टिकी भिजेबो ना।
यानि पानी में नाहुगा पर सर नही गिला करू गा । ये प्राय तब कहा जाता है जब कोई आदमी कुछ लाभ पाना चाहता है पर उसके कारण चर्चा में नही आना चाहता है.जैसे प्रेम तो करेगे पर बदनामी नही लेगे .
जोले - पानी ,चान- नहाना , टीकी - चुटिया

1 विचार आए:

सिद्धार्थ जोशी said...

बहुत सुंदर कहावत माधवी जी

लेकिन जोले चान और टिकी का शाब्दिक अर्थ भी बता देतीं तो और भी आनन्‍द आता। पानी में नहाउंगा लेकिन गीला नहीं होउंगा। जैसे काजल की कोठरी में जाना और काला न होना।
सुंदर

 

मेरे अंचल की कहावतें © 2010

Blogger Templates by Splashy Templates