Wednesday, June 2, 2010

सुआ ही काफी है...



बिल्ली नै ताकले रो डाम इ घणो.. 


बिल्ली के लिए तलवार कि जरुरत नहीं होती, सुआ गरम कर लगा दो काफी है




यह पृथ्‍वी के बज से उठाया है... 

2 विचार आए:

Shekhar Kumawat said...

sahi hai

jab ghe sidhi ungli se hi nikal jaye to tedi kyun kare

राज भाटिय़ा said...

बेचारी बिल्ली.....

 

मेरे अंचल की कहावतें © 2010

Blogger Templates by Splashy Templates